बांट कर गम खुशी से

बाँट कर गम खुशी से पीया कीजिये.
शौक से जिंदगी को जीया कीजिये।

शामिल हो सभी की खुशी में कभी ,
खुशियों का खुशी से गुणा कीजिये।

यूँ ही कट जायेगा जिंदगी का सफ़र,
अपनो से हमेशा मिला कीजिये।

माफ़ कर हर कहा और सुना आप अब ,
चाहे तारीफ़ या फिर गिला कीजिये।

जिंदगी को जीयेगी किरण शान से,
मौत से बेवजह न डरा कीजिये।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s