वक्त में है बहुत

 

वक्त  में हैं बहुत तल्खियाँ जिंदगी ।  

बन्द रख दिल की तू खिड़कियाँ जिंदगी ।।


दिल में तूफां उठे तो सँभलना जरा –

डूब जाएँ  न ये कस्तियाँ जिंदगी।


तोहफा है बहुत खूबसूरत –  सा ये –

जो दिया रब ने कर शुक्रिया जिंदगी। 


मौत की तो है फितरत डराएगी ही-

करने दे उसको मनमर्जियाँ जिंदगी ।


लाख देता रहे वक्त तुझको दगा-

आगे बढ़  , माफ़ कर गलतियाँ जिंदगी। 


है पता खूबसूरत है सबसे  ‘ किरण ‘-

चाहे जितनी पड़ें अर्जियाँ जिंदगी।

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s